BSEB Geography ( भूगोल ) लघु उत्तरीय प्रश्नोत्तर Class12 Question Paper 2024 | ( 20 Marks ) PART – 6

दोस्तों अगर आप कक्षा 12वीं की तैयारी इस बार कर रहे हैं तो यहां पर भूगोल का महत्वपूर्ण लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर दिया हुआ है तथा अगर आप कक्षा 12 भूगोल का ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर ( class 12th Geography objective question answer को भी पढ़ना चाहते हैं तो उसका लिंक भी मिल जाएगा कक्षा 12 भूगोल का लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर पीडीएफ 2024, भूगोल का लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर कक्षा 12 बिहार बोर्ड 2024

दोस्तों कक्षा 12 भूगोल का यह लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर बहुत ही महत्वपूर्ण है Class 12 Geography Short Answer Question Answer 2024 PDF Download इसलिए इन सभी को विशेष ध्यान दें और अपनी तैयारी को बेहतर करें। कक्षा 12 भूगोल का लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर 2024 पीडीएफ डाउनलोड  यह सभी प्रश्न इंटर बोर्ड परीक्षा में हमेशा पूछे जाते हैं इसलिए शुरू से अंत तक जरूर देखें और अपने दोस्तों में शेयर करें

Geography ( लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर ) | PART – 6

bhugol class 12 objective question answer pdf download 2024

Q126. पारिस्थितिकीय असंतुलन को प्रभावित करने वाले दो कारकों का उल्लेख करें।

उत्तर :-  पृथ्वी एक विशाल पारिस्थितिक तंत्र है। यहाँ पर जैविक तथा अजैविक घटक समान रूप से एक-दूसरे से अंतक्रिया करते हैं, जिसके कारण इस पारिस्थितिक तंत्र में संरचनात्मक एवं क्रियात्मक परिवर्तन होते हैं। मानवीय क्रियाकलापों एवं उद्योगों के अपशिष्ट उत्पादों सेमुक्त द्रव्य एवं ऊर्जा पर्यावरण को प्रदूषित कर देते हैं तथा परिस्थितिकीय असंतुलन पैदा कर देते हैं। पर्यावरण प्रदूषण के मुख्य रूप जल प्रदूषण, वायु प्रदूषण, ध्वनि प्रदूषण इत्यादि है। इस प्रकार के पारिस्थितिकीय असंतुलन को प्रभावित करने वाले दो मुख्य कारक हैंवृक्षों की कटाई तथा जनसंख्या की तीव्र वृद्धि। वृक्षों की अंधाधुंध कटाई के कारण वायुमंडल में ऑक्सीजन की कमी हो रही है, वर्षा की मात्रा कम होती जा रही है तथा वातावरण में धूलकण एवं अन्य प्रदूषक बढ़ रहे हैं। जनसंख्या की वृद्धि से घरेलू अपशिष्ट की मात्रा बढ़ रही है,अधिक अनाज उत्पादन के लिए खेतों में रासायनिक खाद भूमि प्रदूषण फैला रहे हैं तथा अधिवास और अन्य भौतिक संरचना के विस्तार के कारण वन-क्षेत्र कम होते जा रहे हैं। ये सभी पारिस्थितिकीय असंतुलन पैदा कर रहे हैं।


 

Q127. भारत द्वारा चंद्रमा पर भेजा गया पहला मानवरहित अंतरिक्ष यान कौन था?

उत्तर :-  भारत द्वारा चंद्रमा पर भेजा गया पहला मानवरहित अंतरिक्ष यान चंद्रयान 1 था।


Q128. पूर्व-पश्चिम एवं उत्तर-दक्षिण गलियारा के बारे में संक्षेप में लिखें।

उत्तर :-   वाहनों को अधिक तीव्र गति से चलाने के लिए राष्ट्रीय राजमार्गों से 14,846 किमा० लम्बी सड़कों को चुनकर सुपर राष्ट्रीय महामार्ग कहा गया, जो 6 लेन वाले हैं। इनमें पूर्व-पश्चिम उत्तर दक्षिण गलियारा मुख्य हैं। पूर्व-पश्चिम गलियारा 3640 किमी० लम्बा है और यह लिवर को पोरबंदर से जोड़ता है। इसी प्रकार उत्तर-दक्षिण गलियारा 4016 किमी० लम्बा है और गह श्रीनगर को कन्याकुमारी से जोड़ता है।


Q129. योजना आयोग का गठन कब हुआ था? इसके दो कार्यों को लिखें।

उत्तर :-  योजना आयोग का गठन 1950 ई. में हआ था। इसके दो कार्य हैं

(i) अर्थव्यवस्था के विभिन्न सेक्टरों, जैसे—कृषि, सिंचाई, विनिर्माण, ऊर्जा, परिवहन, संचार, सामाजिक अवसंरचना और सेवाओं के विकास के लिए कार्यक्रम बनाना तथा उनको लागू करना और

(ii) विकास में । प्रादेशिक असंतुलन कम करने के लिए योजना बनाना तथा उनको लागू करना।


Q130. सार्क का पूरा नाम क्या है? इसका मुख्यालय कहाँ है?

उत्तर :-   सार्क का पूरा नाम South Asian Association for Regional Co-operative अचार म एशिया क्षेत्रीय सहयोग संगठन है। इसके आठ सदस्य देश भारत, पाकिस्तान, नेपाल, भूटान बंगलादेश, श्रीलंका, अफगानिस्तान और मालदीव हैं। सार्क की स्थापना 8 दिसंबर, 1985 को बंगलादेश की राजधानी ढाका में हुई। इसका मुख्यालय ढाका में है।


Q131. स्वेज नहर किन दो निकटवर्ती पत्तनों को जोड़ती है?

उत्तर :-  स्वेज नहर मिस्र में उत्तर में पोर्ट सईद एवं दक्षिण में स्थित पोर्ट स्वेज को जोड़ती है। इस प्रकार उत्तर में भूमध्यसागर और दक्षिण में लाल सागर इससे जुड़ जाता है।


Q132. वायु प्रदूषण के प्रमुख स्रोतों का उल्लेख करें।

उत्तर :-   धूल, धु, गैंसे आदि संदूषकों की वायु में अभिवृद्धि जो मनुष्यों, जन्तुओं और पेड़-पौधों के लिए हानिकारक होते हैं, वायु प्रदूषण कहलाते हैं। वायु प्रदूषण के प्रमुख स्रोत हैं

(i) प्राकृतिक स्रोत –  जैसे ज्वालामुखी विस्फोट, धूल, तूफान, अग्नि इत्यादि तथा मानवकृत स्रोत, जैसे उद्योग, मोटरवाहन, ताप बिजली घर, शहरी कचरा, खदानों से निकली धूल इत्यादि।
(ii) उद्योग –  उद्योगों से अनेक प्रकार की जहरीली गैस, राख और धूल निकलकर वायु को प्रदूषित करती है।
(iii) मोटर वाहन – मोटर वाहनों से मोनोक्साइड और सीसा वायुमंडल में छोड़े जाते हैं। बड़े, नगरों में 50 से 60% प्रदूषण इन्हीं से होता है।
(iv) ताप बिजली घर – ताप बिजली घरों से गंधक, नाइट्रोजन ऑक्साइड और कार्बन ऑक्साइड वायुमंडल में छोड़े जाते हैं।
(v) शहरी कचरा – नगरों और महानगरों में प्रतिदिन लाखों टन कचरा निकलता है। इसमें से बहुत कचरा जला दिया जाता है, जिसका घना धुआँ वायुमंडल में फैलकर उसे प्रदूषित कर देता है।
(vi) खदानों से निकली धूल – खदानों से और पत्थर तोड़ने से भारी मात्रा में धल निकलकर वायुमंडल में फैल जाता है।


Q133. प्रदूषण और प्रदूषकों में क्या भेद है? (What is difference between pollution and pollutants ?)

उत्तर :-  पर्यावरण में जीव-जन्तुओं और पेड़-पौधों के लिए हानिकारक परिवर्तन, को प्रदूषण कहते हैं। पर्यावरण के विभिन्न अवयवों की एक निश्चित संरचना होती है। इन अवयवों में जब सर प्रकार के पदार्थ मिल जाते हैं तथा उनकी मौलिक संरचना में हानिकारक परिवर्तन आ जाता है इस परिवर्तन का नाम ही प्रदूषण है। पर्यावरण का अधिकतर प्रदूषण मानवीय क्रियाओं द्वारा होता है, लेकिन कुछ प्राकृतिक क्रियाओं द्वारा भी होता है। प्रदूषण मुख्यतः तीन प्रकार का हो है वायु प्रदूषण, भूमि प्रदूषण और जल प्रदूषण। पर्यावरण में विद्यमान प्राकृतिक संतुलन में ह्रास और प्रदूषण उत्पन्न करने वाली ऊर्जा या पदार्थ के किसी भी रूप को प्रदूषक कहा जाता है। ये गैस, तरल या ठोस किसी भी रूप में हो सकते हैं। प्रदूषक विभिन्न माध्यमों द्वारा विकीर्ण तथा परिवाहित होते हैं। कारखानों का धुआँ. कूड़ा-कचरा, रसायनों वाला अपशिष्ट जल, मलजल, कृषि में प्रयुक्त कीटनाशक तथा उर्वरक. वाहनों का धुआँ इत्यादि मानवीय प्रदूषक है। ज्वालामुखी से उत्पन्न लावा, कीचड़ तथा अन्य पदार्थ, बाढ़ जल के साथ बहकर आए गाद, रेत आदि प्राकृतिक प्रदूषक है।


Q134. जल प्रदूषण की रोकथाम के लिए चार महत्त्वपूर्ण सुझाव दें। (Suggest four important measures to prevent water pollution.)

उत्तर :-  जल प्रदूषण की रोकथाम के लिए चार महत्त्वपूर्ण सुझाव इस प्रकार हैं

(i) घरों से निकले कचरों को नदी, तालाब इत्यादि में नहीं फेंकना चाहिए।
(ii) कारखानों से निकले अपशिष्टों एवं मलजल को बिना शोधित किए नदियों, झीलों या तालाबों में विसर्जित नहीं करना चाहिए।
(iii) नगरपालिकाओं को सीवर शोधन संयंत्रों की व्यवस्था करनी चाहिए।
(iv) जल प्रदूषण नियंत्रण से संबंधित उपयोगी और कारगर कानून बनाना चाहिए और उसे सख्ती से लागू करना चाहिए।


Q135. लोगों पर संदूषित जल/गंदे पानी के उपयोग के क्या संभव प्रभाव हो सकते हैं?

उत्तर :-  जल जीवन के लिए एक बुनियादी जरूरत है। स्वस्थ जीवन के लिए स्वच्छ जल आवश्यक है। लेकिन अनेक कारणों से भारत के नगरों और गाँवों में जल-प्रदूषण तेजी से बढ़ रहा है। जल प्रदूषण से तात्पर्य जल के भौतिक, रासायनिक और जैविक गुणों में ऐसा परिवर्तन से है जो उसके रूप, गंध और स्वाद से मानव के स्वास्थ्य और कृषि, उद्योग एवं व्यापार के लिए हानिकारक हो। प्रदूषित जल पीने से विभिन्न प्रकार के मानवीय रोग उत्पन्न हो जाते हैं, जिसमें आँत रोग, पीलिया, हैजा, टायफायड, अतिसार तथा पेचिस प्रमुख है। प्रदूषित जल कृषि क्षेत्र में घुसकर फसलों को भी प्रदूषित कर देते हैं, जो अन्ततः आहार-शृंखला में प्रवेश करके मानव स्वास्थ्य को हानि पहुंचाता है।


Q136. स्मॉग क्या होता है? (What is Smog ?)

उत्तर :-   वायुमंडल में धुआँ और कुहासा के मिलने से धुंआसा का निर्माण होता है, जिसे अंग्रेजी में स्मॉग (smog = smoke + fog) कहते हैं। जाड़े के दिनों में वायुमंडल की निचली तल में कुहासा छाया रहता है। ऊर्जा के स्रोत के रूप में विभिन्न प्रकार के ईंधनों के प्रयोग में वृद्धि के साथ, पर्यावरण में विषाक्त धुएँ वाली गैसों के उत्सर्जन के परिणामस्वरूप स्मॉग का निर्माण होता. है। यह मानव स्वास्थ्य के लिए अत्यंत घातक होता है।


Q137. हरित रासायनिकी क्या है? (What is green chemistry?)

उत्तर :-  हरित रासायनिकी रासायनिक उत्पाद एवं प्रक्रिया का वह प्रारूप है जो वातावरण म हानिकारक तत्त्वों के पैदा होने की प्रक्रिया को कम करता है या खत्म करता है। इसका संबंध किसी रासायनिक उत्पाद के संपूर्ण जीवन चक्र, प्रारूप, उत्पादन, उपयोग और अंत में निष्पादन तक रहता है। हरित रासायनिकी को सतह पोषणीय रसायनिकी भी कहा जाता है। यह प्रदूषण का रोकता है, मानव स्वास्थ्य और वातावरण पर रासायनिक उत्पाद प्रभाव को कम करता है आर कम हानिकारक रासायनिक उत्पाद तैयार करने की विधि बतलाता है।


Q138. मानव स्वास्थ्य पर वायु प्रदूषण के क्या प्रभाव पड़ते हैं?

उत्तर :-  वायु प्रदूषण से फेफड़ों, हृदय, स्नाय तंत्र और परिसंचरण तंत्र के रोग होते हैं। वायु ण का सबसे अधिक खतरा बच्चों को होता है। क्योंकि इसका सीधा प्रभाव फेफड़ों पर पड़ता ‘ से मनोवैज्ञानिक और शारीरिक हानियाँ भी होती हैं।


Q139. उष्माद्वीप क्या है? संक्षेप में लिखें। (What is theatisland? write in short.)

उत्तर :-  नगर के केन्द्रीय भाग में बढ़ती हई जनसंख्या को आवास प्रदान करने एवं अन्य काया लिए विशाल सिमट ककरीट के ढाँचे बनाये जाते हैं। इससे वातावरण का तापमान बहुत आधक जाता है। गर्मियों में इनमें रहना दूभर हो जाते हैं। इस तप्त केन्द्रीय भाग को उमाद्वीप कहा है। इससे मनोवैज्ञात जाता है।


Q140. भारत में नगरीय अपशिष्ट निपटान से जुड़ी प्रमुख समस्याओं का उल्लेख कीजिए।

उत्तर :-  भारतीय नगरों की समस्याओं में अपशिष्टों का निपटान बहुत महत्त्वपूर्ण है। इसके कारण हैं, जिनमें निम्नलिखित महत्त्वपूर्ण हैं
मानव मल के सुरक्षित निपटान के लिए सीवर या अन्य माध्यमों की कमी है।

(ii) कूड़ा-कचरा संग्रहण की सेवाओं की व्यवस्था अपर्याप्त है। ठोस अपशिष्ट के संग्रहण में असमर्थता एक गंभीर समस्या है। सड़कों, घरों के बीच की खाली भूमि और बेकार भूमि पर दसके ढेर लग जाते हैं। ऐसे ढेर स्वास्थ्य के लिए गंभीर खतरा है।
(iii) औद्योगिक अपशिष्टों को नदियों में बहाया जाना भी प्रदूषण का मुख्य कारण हैं। नगर आधारित उद्योगों और अनुपचरित मल जल से उत्पन्न प्रदूषण नगरों में स्वास्थ्य की गंभीर समस्याएँ पैदा करता है। यों तो ठोस अपशिष्टों के निपटान में सरकारी और
गैर-सरकारी दोनों संस्थाएँ कार्य कर रहीं हैं, लेकिन यह समस्या अभी तक सुलझ नहीं पायी है। इन अपशिष्टों को संसाधन मानकर इनसे ऊर्जा और खाद का उत्पादन किया जा सकता है।


Bihar board bhugol class 12th question answer pdf in Hindi

Q141. भारत के चार बड़े राज्यों की जनसंख्या के आकार तथा क्षेत्रफल की तुलना कीजिए।

उत्तर :- भारत में जनसंख्या का वितरण बहुत असमान है। इसके कुछ राज्य क्षेत्रफल एवं जनसंख्या दोनों दृष्टिकोण से बड़े हैं, कुछ राज्य क्षेत्रफल में बड़े हैं किन्तु उनकी जनसंख्या कम है, तथा कुछ राज्य क्षेत्रफल में छोटे हैं किन्तु उनकी जनसंख्या अपेक्षाकृत अधिक है।
क्षेत्रफल के दृष्टिकोण से चार बड़े राज्य क्रमशः राजस्थान (10.41%), मध्यप्रदेश (9.38%), महाराष्ट्र (9.36%) तथा आन्ध्रप्रदेश (8.37%) हैं । इसके विपरीत, जनसंख्या के दृष्टिकोण से चार बड़े राज्य उत्तरप्रदेश (16.17%), महाराष्ट्र (9.42%), बिहार (8.07%) और पश्चिम बंगाल (7.81%) हैं। इस प्रकार, राजस्थान और मध्यप्रदेश आकार में बहुत बड़े हैं किन्तु उनकी जनसंख्या कम (क्रमशः 0.57% और 5.88%) है। इसके विपरीत, बिहार क्षेत्रफल में छोटा (2:86%) है, किन्तु इसकी जनसख्या अधिक है। महाराष्ट्र क्षेत्रफल और जनसंख्या दोनों में संतुलित और बड़ा है। लगभग यही स्थिति आंध्रप्रदेश और उत्तर प्रदेश की है।


Q142. जन्मदर और मृत्युदर की प्रवृत्तियों ने भारत की जनसंख्या वृद्धि को किस प्रकार निर्धारित किया है?

उत्तर :-  जनसंख्या की वृद्धि को प्रभावित करने वाले कारकों में जन्मदर और मृत्युदर सर्वाधिक अपूर्ण है। 1921 ई० के पर्व जन्मदर और मृत्युदर दोनों ऊँची थी। 1911-1921 में जन्मदा 48 प्रति हजार तथा मृत्युदर 47 प्रति हजार थी, अतः जनसंख्या की वृद्धि की दर बहुत धीमी 1921-51 की अवधि में दोनों की दर में कमी आयी किन्तु मृत्यु दर तेजी से घटी। 1941.10 में जन्मदर 40 प्रति हजार और मृत्युदर 27 प्रति हजार दर्ज की गई। अतः जनसंख्या की वृद्धि पह की अपेक्षा अधिक तीव्र गति से हुई। 1951-81 की अवधि में भारत की जनसंख्या में अति तीव वृद्धि हुई, क्योंकि जन्मदर में मामूली कमी (40 से 37 प्रति हजार) हुई और मृत्यु दर में भारी कमी (27 से 15 प्रति हजार) हुई। 1981 के बाद जन्म दर में भी तेजी से गिरावट दर्ज की गई, अतः जनसंख्या की वृद्धि की गति धीमी हो गई। भारत की जनसंख्या की प्राकृतिक वृद्धि 1911-21 में 0.9 प्रति हजार, 1941-51 में 12.5 प्रति हजार, 1971-81 में 21 प्रति हजार और 1991-1999 में 17 प्रति हजार थी।


BSEB Geography ( भूगोल ) Class12 Question Paper 2024 | PART – 6

Q143. संसार में जनसंख्या के आकार और घनत्व के संदर्भ में भारत के स्थान की विवेचना कीजिए।

उत्तर :-  भारत की कुल जनसंख्या 102.8 करोड़ (2001) है, जो संसार की कुल जनसंख्या का 16.7 प्रतिशत है। चीन के बाद भारत विश्व का दूसरा सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश है। भारत की जनसंख्या उत्तरी अमेरिका, दक्षिणी अमेरिका और आस्ट्रेलिया की संयुक्त जनसंख्या से भी अधिक है। किन्तु, यह विश्व में केवल-2.4 प्रतिशत क्षेत्र पर स्थित है और क्षेत्रफल में यह विश्व में सातवें स्थान पर है। भारत में जनसंख्या का औसत घनत्व 324 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी० है, जो चीन के औसत घनत्व 129(1997) से कहीं अधिक है। संसार के दस सबसे अधिक जनसंख्या वाले देशों में जनसंख्या के घनत्व के दृष्टिकोण से भारत का स्थान बांग्लादेश (849) तथा जापान (334) के बाद तीसरा है।


Q144. भारत में जनसंख्या के असमान वितरण के लिए जिम्मेवार दो कारकों को लिखें।

उत्तर :-   भारत में जनसंख्या के असमान वितरण के लिए मुख्य रूप से प्राकृतिक स्वरूप में भिन्नता तथा वर्षा का वितरण जिम्मेवार है। प्राकृतिक स्वरूप में भिन्नता के कारण गंगा के मैदान और समुद्रतटीय मैदान में अधिक जनसंख्या पायी जाती है तो उत्तरी पर्वतीय और दक्षिणी पठारी तथा उत्तरी-पश्चिमी मरुस्थलीय क्षेत्र में कम जनसंख्या मिलती है। उत्तर भारत में वर्षा की मात्रा पूर्व से पश्चिम की ओर कम होती जाती है और इसी के अनुसार जनसंख्या का घनत्व भी कम होता जाता है।


Q145. भारत के सबसे अधिक जनसंख्या वाले पाँच राज्यों के नाम बताइये।

उत्तर :-   भारत में सबसे अधिक जनसंख्या वाले पाँच राज्यों के नाम क्रमशः उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र, बिहार, पश्चिम बंगाल और आंध्रप्रदेश हैं। इनकी जनसंख्या क्रमशः 19.96 करोड़, 11.24 करोड़, 10.38 करोड़, 9.13 करोड़ और 8.43 करोड़ है।


Q146. सतलज-गंगा के मैदान में सघन जनसंख्या के संकेंद्रण के कारणों का वर्णन कीजिए।

उत्तर :-  सतलज-गंगा के मैदान में पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तरप्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल स्थित हैं। ये सभी समतल मैदान हैं, जिसमें मिटटी उर्वर है. सदावाहिनी नदियों द्वारा जल संसाधन उपलब्ध है और उपयुक्त जलवाय के कारण कषि का अधिक विकास हुआ है। इसक गतिरिक्त सड़क, रेल एवं जलमार्ग विकसित है। पश्चिमी और पूर्वी छोर पर क्रमशः दिल्ला “

जकाता के नगरीय और औद्योगिक क्षेत्र स्थित है। यही कारण है कि इस क्षेत्र में जनसंख्या विशाल संकेंद्रण हो गया है। जनसंख्या के घनत्व में दिल्ली सर्वप्रथम (9340) स्थान पर है, के बाद क्रमशः पश्चिम बंगाल (903), बिहार (880), उत्तरप्रदेश (690), पंजाब (484) आरयाणा (477) का स्थान आता है।


bseb geography class 12 question paper pdf download 2024

Q147. प्रत्येक उत्तरोत्तर जनगणना में जनसंख्या का घनत्व क्यों बढ़ रहा है?

उत्तर :-   प्रति इकाई क्षेत्र में व्यक्तियों की संख्या को जनसंख्या का घनत्व कहते हैं। भारत का क्षेत्रफल 32.87 लाख वर्ग किमी० है और इसमें कोई परिवर्तन नहीं होता है। किन्तु इसकी जनसंख्या नरोत्तर जनगणना में बढ़ती जा रही है। अत: प्रत्येक उत्तरोत्तर जनगणना में जनसंख्या का घनत्व श्री बढ़ रहा है। 1991 में देश की जनसंख्या 84.63 करोड थी और घनत्व 274 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी० था। 2001 में जनसंख्या बढ़कर 102.86 करोड़ हो गई, जिसके फलस्वरूप घनत्व बढ़कर 324 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी० हो गया।


Q148. गैरिसन या छावनी नगर क्या होते हैं? उनका क्या प्रकार्य होता है?

उत्तर :-   गैरिसन नगर को छावनी नगर भी कहा जाता है। इन सैनिक छावनियों में सैनिक टुकड़ियाँ रहती हैं तथा उनके शस्त्रों के भंडार होते हैं। भारत में अंबाला, जालंधर, महू, बबीना, उधमपुर इत्यादि इसके उदाहरण हैं। देश की सुरक्षा की दृष्टि से इन नगरों का महत्त्व है। इनका कार्य सैनिक सामानों को रखना तथा सैनिकों को उपयुक्त वातावरण में सैन्य
कार्य के लिए चुस्त-दुरुस्त बनाये रखना है।


Q149. महानगर क्या होते हैं? ये नगरीय संकुलों से किस प्रकार भिन्न होते हैं?

उत्तर :-   10 लाख से 50 लाख की जनसंख्या वाले नगरों को महानगर कहा जाता है। ये नगरीय । संकुलों से भिन्न होते हैं। नगरीय संकुल में बहुसंख्यक महानगर और मेगानगर सम्मिलित होते हैं। नगरीय संकुल में एक नगर के साथ उसका बहिर्वद्ध (outgrowth), संस्पर्शी नगर (satellite) अथवा संस्पर्शी प्रसार नगर होना अनिवार्य है,
जबकि महानगर में ऐसे संलग्न नगर का होना अनिवार्य नहीं है।


Q150. आप बस्ती (अधिवास) को कैसे परिभाषित करेंगे?

उत्तर :-   बस्ती या अधिवास मनुष्य के आवासों के उस संगठित निवास स्थान को कहते हैं, जिसमें उनके रहने वाले भवनों तथा उनके आने-जाने के लिए बनाए रास्तों एवं गलियों को सम्मिलित किया जाता है। इनमें आखेटकों और चरवाहों के अस्थायी डेरे, स्थायी गाँव तथा एक बड़ा नगर को सम्मिलित किया जाता है। मानव बस्तियाँ कुछ घरों वाले एक छोटे पुरवे से लेकर बहुत से भवनों वाले नगर या मेगालोपोलिस हो सकते हैं। आवास एक झोपड़ी, एक मकान, एक फ्लैट अथवा एक बड़ी हवेली हो सकता है।


Inter Board pariksha 2024 Question Answer 

 1.Hindi 100 Marks ( हिंदी )
 2.English 100 Marks ( अंग्रेज़ी )
 3.PHYSICS ( भौतिक विज्ञान )
 4.CHEMISTRY ( रसायन विज्ञान )
 5.BIOLOGY ( जीवविज्ञान )
 6.MATHEMATICS ( गणित )
 7.GEOGRAPHY ( भूगोल )
 8.HISTORY ( इतिहास )
 9.ECONOMICS ( अर्थशास्त्र )
 10.HOME SCIENCE ( गृह विज्ञान )
 11.SANSKRIT ( संस्कृत )
 12.SOCIOLOGY ( समाज शास्‍त्र )
 13.POLITICAL SCIENCE ( राजनीति विज्ञान )
 14.PHILOSOPHY ( दर्शन शास्‍त्र )
15.PSYCHOLOGY ( मनोविज्ञान )
You might also like